-->
Natural Natural

Vasant Panchami ke upay

Post a Comment

 बसंत पंचमी का पर्व मुख्य रूप से सरस्वती माता के अवतरण दिवस के रुप में मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि जो व्यक्ति इस दिन पूरे श्रद्धा भाव से माता का पूजन और ज्योतिष के कुछ उपाय आजमाते हैं उनकी समस्त मनोकामनाओं की पूर्ति होती है।


ये दिन मुख्य रूप से स्टूडेंट और शादीशुदा कपल के लिए ख़ास माना जाता है। जहां स्टूडेंट्स के पूजन से माता उन्हें करियर और परीक्षा में सफलता का आशीष देती हैं वहीं वैवाहिक जोड़े को सुखी दांपत्य का आशीष देती हैं।

बसंत पंचमी का पर्व हर साल माघ महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस साल यह 26 जनवरी को मनाया जाएगा। वसंत पंचमी के दिन से ही वसंत ऋतु का आरंभ हो जाता है।वसंत ऋतु के आगमन से चारों तरफ खुशनुमा माहौल हो जाता है।


इस ऋतु का आगमन प्रकृति से जुड़ी हर चीज के सौंदर्य को और ज्यादा निखार देता है। ज्योतिष के अनुसार बसंत ऋतु का संबंध कामदेव से माना जाता है। यही वजह है कि बसंत पंचमी के दिन कामदेव और उनकी पत्नी रति की भी पूजा की जाती है।

यदि आपके और जीवनसाथी के बीच मनमुटाव रहते हैं तो मुख्य रूप से बसंत पंचमी के दिन आपको पीले वस्त्र पहनने चाहिए। इस दिन स्नान के बाद पीले वस्त्र धारण करें और माता दुर्गा को पीले रंग के फूल चढ़ाकर सुखी दाम्पत्य की कामना करें। इस दिन यदि आप माता दुर्गा को पीली चुनरी चढ़ाएंगी तो आपकी समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होंगी।


कामदेव व देवी रति की पूजा जोड़े में करें

ऐसी मान्यता है कि यदि आपके जीवनसाथी के साथ संबंध बहुत अच्छे नहीं हैं तो आप इस दिन एक साथ मिलकर माता सरस्वती के साथ कामदेव व देवी रति


की पूजा जरूर करें। इसके लिए आप एक लकड़ी की चौकी पर पीला वस्त्र बिछाकर अक्षत का कमल दल बनाएं और उसके आगे के भाग में हल्दी से भगवान गणेशऔर पीछे के भाग में चंदन की मदद से कामदेव व देवी रति की प्रतिमा बनाएं। इसके बाद पूजन शुरू करें। साथ ही अबीर और रंग-बिरंगे फूल अर्पित करें। इस उपाय से आपके रिश्ते में मिठास आएगी।


सुहाग की सामग्री भेंट करें

basant panchami astro remedies


यदि पति-पत्नी के रिश्ते में किसी वजह से दरार पड़ने लगी है और आपसी लड़ाई बढ़ रही है तो बसंत पंचमी के दिन किसी सुहागिन महिला को सुहाग का सामान भेंट में दें। इस सामन में मुख रूप से लाल या पीली साड़ी, चूड़ियां, सिन्दूर, आलता आदि मौजूद होना चाहिए। ऐसा करने से पति-पत्नी के बीच प्रेम बढ़ता है।

माता सरस्वती को पीले फूल चढ़ाएं

यदि आप बसंत पंचमी के दिन सरस्वती माता को पीले फूल चढ़ाती हैं और पीले सामग्री का भोग लगाती हैं तो ये आपके जीवन में खुशहाली लाने के उपाय हैं। इस दिन आप मुख्य रूप से माता को पीले चावल का भोग लगाएं और इस भोग को पूरे परिवार में वितरित करें। ये उपाय आपके रिश्ते की डोर को मजबूत करने में मदद करेगा।


पान का जरूर सेवन करें

basant panchami upay


ऐसी मान्यता है कि यदि आप बसंत पंचमी के दिन (बसंत पंचमी के दिन न करें ये गलतियां) माता गौरी को पान चढ़ाती हैं और अपने जीवनसाथी के साथ पान का सेवन करती हैं तो आपसी प्रेम बढ़ेगा है और जीवन में खुशहाली आएगी। इस दिन आप माता गौरी को सिंदूर और सरस्वती माता को हल्दी अवश्य चढ़ाएं। इससे आपके घर की सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं।


यदि आप बसंत पंचमी के दिन मुख्य रूप से इन उपायों को आजमाती हैं और माता सरस्वती का पूरे श्रद्धा भाव से पूजन करती हैं तो आपकी समस्त मनोकामनाएं पूर्ण हो सकती हैं दाम्पत्य जीवन में मिठास आ सकती है।


अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। अपने विचार हमें कमेंट बॉक्स में जरूर भेजें।

वसंत पंचमी, वीणावादिनी मां सरस्वती की आराधना का पर्व है। इस दिन विद्या और बुद्धि प्राप्ति के अलावा अपने संकटों के नाश के लिए भी सरस्वती देवी से प्रार्थना की जा सकती है।


प्रस्तुत है अचूक उपाय वीडियो के माध्यम से-





1. बुद्धि में विकास के लिए वसंत पंचमी के दिन काली मां के दर्शन कर पेठा या कोई भी फल अर्पित कर ‘ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महा सरस्वत्यै नम:’ मंत्र का सस्वर जाप करना चाहिए ।

The festival of Basant Panchami is mainly celebrated as the incarnation day of Goddess Saraswati.  It is a belief that the person who worships the mother with full devotion and tries some remedies of astrology on this day, all his wishes are fulfilled.



 This day is mainly considered special for students and married couples.  While worshiping the students, the mother blesses them with success in career and examinations, while the married couple is blessed with a happy marriage.


 The festival of Basant Panchami is celebrated every year on the fifth day of Shukla Paksha of Magh month.  This year it will be celebrated on 26 January.  The spring season starts from the day of Vasant Panchami. With the arrival of spring, there is a pleasant atmosphere all around.

The arrival of this season enhances the beauty of everything related to nature.  According to astrology, the spring season is considered to be related to Cupid.  This is the reason why Kamdev and his wife Rati are also worshiped on Basant Panchami.


 If there is estrangement between you and your spouse, then mainly on the day of Basant Panchami, you should wear yellow clothes.  On this day, after bathing, wear yellow clothes and wish for a happy marriage by offering yellow flowers to Goddess Durga.  If you offer yellow chunri to Goddess Durga on this day, all your wishes will be fulfilled.



 Worship Kamdev and Goddess Rati in pairs


 It is a belief that if your relationship with your spouse is not very good, then on this day together you can worship Kamdev and Goddess Rati with Mother Saraswati.



 Must worship.  For this, you should make a lotus of Akshat by laying a yellow cloth on a wooden post and in its front part make the idol of Lord Ganesha with turmeric and with the help of sandalwood in the back part, make the idol of Kamdev and Goddess Rati.  After this start worship.  Also offer Abir and colorful flowers.  This remedy will bring sweetness in your relationship.



 present the ingredients of suhaag


 basant panchami astro remedies

If there is a rift in the relationship between husband and wife due to any reason and mutual fighting is increasing, then on the day of Basant Panchami, gift the items of Suhag to a married woman.  Red or yellow saree, bangles, vermilion, alta etc should be present in this saman.  By doing this, the love between husband and wife increases.


 Offer yellow flowers to Mother Saraswati


 If you offer yellow flowers to Goddess Saraswati on the day of Basant Panchami and offer yellow material, then these are the ways to bring happiness in your life.  On this day you mainly offer yellow rice as bhog to the mother and distribute this bhog to the whole family.  This remedy will help in strengthening the bond of your relationship.



 Must drink paan


 basant panchami remedies



 It is believed that if you offer betel leaf to Mother Gauri on Basant Panchami (don't commit these mistakes on Basant Panchami) and consume betel leaf with your spouse, then mutual love will increase and happiness will come in life.  On this day you must offer vermilion to Mother Gauri and turmeric to Mother Saraswati.  This can remove all the problems in your home.



 If you try these remedies mainly on the day of Basant Panchami and worship Goddess Saraswati with full devotion, then all your wishes can be fulfilled and there can be sweetness in married life.



 If you liked this story, then do share and like it on Facebook.  To read more articles like this, stay connected with Harzindagi.  Do send us your thoughts in the comment box.


 Vasant Panchami is the festival of worship of Veenavadini Maa Saraswati.  On this day, apart from gaining knowledge and wisdom, Saraswati Devi can also be prayed for the destruction of your troubles.



 Presenting the perfect solution-



 1. On the day of Vasant Panchami, for the development of the intellect, one should recite the mantra 'Om Ain Hree Kleen Maha Saraswatyai Namah' by offering Petha or any fruit after visiting Maa Kali.

Newest Older

Related Posts

There is no other posts in this category.

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter